vaastu dosh ke nivaaran tatha prabhaavee upaay 4

वास्तु दोष के निवारण तथा प्रभावी उपाय 4 – वास्तु दोष के निवारण तथा प्रभावी उपाय – vaastu dosh ke nivaaran tatha prabhaavee upaay 4 – vastu dosh ka nivaran tatha prabhavi upaay

द्वार दोष और वेध दोष दूर करने के लिए शंख, सीप, समुद्र झाग, कौड़ी लाल कपड़े में या मोली में बांधकर दरवाजे पर लटकायें।

30. बीम के दोष को शांत करने के लिए बीम को सीलिंग टायल्स से ढंक दें। बीम के दोनों ओर बांस की बांसुरी लगायें।

31. नैऋत्य कोण दोष निवारण के लिए इस कोने को भारी बनाएं। स्टोर बनाना यहां शुभ होता है।

32. शयनकक्ष में दर्पण का प्रतिबिंब पलंग पर न पड़े तथा डबल बेड पर एक ही गद्दा रखें, तो ठीक रहेगा।

33. पति-पत्नी में प्रेम के लिए प्रेमी परिंदे का चित्र या मेडरिन बतख का जोड़ा रखें अथवा सपरिवार प्रसन्नचित मुद्रा वाला चित्र लगाएं।

34. डायनिंग टेबल को प्रतिबिंबित करने वाला आईना आपके सद्भाव व भाग्य में वृद्धि करता है, इसे लगाएं।

35. संभव हो तो गाय का पालन करना चाहिये.

36. घर में तुलसी का पौधा लगाना चाहिये.

वास्तु दोष के निवारण तथा प्रभावी उपाय 4 – vaastu dosh ke nivaaran tatha prabhaavee upaay 4 – वास्तु दोष के निवारण तथा प्रभावी उपाय – vastu dosh ka nivaran tatha prabhavi upaay

 

Tags: , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Comment