gupt rog ka ilaj patanjali

dhaat rog ka prabhaavee harbal upachaar

धात रोग का प्रभावी हर्बल उपचार – घरेलू उपचार – dhaat rog ka prabhaavee harbal upachaar – gharelu upchar

नहाने से पहले शरीर पर बेसन और दही का पेस्ट लगाएं। इससे त्वचा साफ हो जाती है और बंद रोम छिद्र भी खुल जाते हैं।गाजर का जूस रोज पिएं। तन की दुर्गध दूर भगाने में यह कारगर है।पान के पत्ते और आंवला को बराबर मात्रा में पीसे। नहाने के पहले इसका पेस्ट लगाएं। फायदा होगा।सांस …

धात रोग का प्रभावी हर्बल उपचार – घरेलू उपचार – dhaat rog ka prabhaavee harbal upachaar – gharelu upchar Read More »

dil kee beemaariyon ke ghareloo upachaar

दिल की बीमारियों के घरेलू उपचार – घरेलू उपचार – dil kee beemaariyon ke ghareloo upachaar – gharelu upchar

झुर्रियां अकसर बढ़ती उम्र में सभी में होती है। विशेषकर ज्यादा गर्मी या ज्यादा सर्दी के दौरान चेहरे पर झुर्रियां यानी बूढी रेखाओं के पड़ने की संभावना अधिक बढ़ जाती है.लेकिन आज की जीवनशैली में लगातार बदलाव होने के कारण अब असमय भी झुर्रियां होने लगी हैं। आइए जानें झुरिर्यों से बचाव के घरेलू उपचार …

दिल की बीमारियों के घरेलू उपचार – घरेलू उपचार – dil kee beemaariyon ke ghareloo upachaar – gharelu upchar Read More »

mantra se purush rog ka upchaar

मंत्र से पुरुष रोग का उपचार – मंत्र से पुरुष रोग का उपचार – mantra se purush rog ka upchaar – mantr se purush rog ka upachar

जानकारी दोस्तों स्रष्टि के प्रारम्भ से ही मनुष्य किसी ना रोगो बिमारियों से ग्रसित रहा है, और जब तक मनुष्य का शरीर है तब तो यह चलता ही रहेगा । वस्तुत: इस पृथ्वी पर कोई बिरला ही होगा जिसे कभी भी कोई रोग ना हुआ हो, कभी बीमारी के लक्षण समय से पकड़ में आ …

मंत्र से पुरुष रोग का उपचार – मंत्र से पुरुष रोग का उपचार – mantra se purush rog ka upchaar – mantr se purush rog ka upachar Read More »

aankhon ke rog yog dwara upay

आंखों के रोग योग द्वारा उपाय – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – aankhon ke rog yog dwara upay – purush rog ka yoga dwara upaay

आंखों के रोगॐ शंखिनीभ्यां नम:।इस मंत्र से जातक को मोतियाबिंद सहित रतौंधी, नेत्र ज्योति कम होने आदि की परेशानी में लाभ मिलता है। आंखों के रोग योग द्वारा उपाय – aankhon ke rog yog dwara upay – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – purush rog ka yoga dwara upaay

mastishk rog

मस्तिष्क रोग – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – mastishk rog – purush rog ka yoga dwara upaay

मस्तिष्क रोगॐ उमा देवीभ्यां नम:।यह मंत्र मस्तिष्क संबंधी विभिन्न रोगों जैसे सिरदर्द, हिस्टीरिया, याददाश्त जाने आदि में लाभदायी माना जाता है। मस्तिष्क रोग – mastishk rog – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – purush rog ka yoga dwara upaay

jhadte balon ke liye

झड़ते बालों के लिए – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – jhadte balon ke liye – purush rog ka yoga dwara upaay

झड़ते बालों के लिएबालों के झड़ने का कारण है शहर का प्रदूषण, धूल, धुआं और दूषित भोजन-पानी। इसके अलावा तनाव और अवसाद। प्रदूषण से त्वचा रूखी हो जाती है रूखी त्वचा में डैंड्रफ हो जाते हैं और यह रूखी त्वचा चर्म रोग का कारण भी बन सकती है।ये करें :वज्रासन के बाद कुर्मासन करें फिर …

झड़ते बालों के लिए – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – jhadte balon ke liye – purush rog ka yoga dwara upaay Read More »

achman kriya

आचमन क्रिया – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – achman kriya – purush rog ka yoga dwara upaay

आचमन क्रियाप्रथम आचमन – ॐ केशवाय नम:द्वितीय आचमन – ॐ नारायणाय नम:तृतीय आचमन – ॐ माधवाय नम:चतुर्थ आचमन – हस्त प्रक्षालन।ॐ गोविंदाय नम: बोलकर हाथ धो लें। पूर्व अथवा पश्चिम की तरफ मुख करके स्नानादि करके शुद्ध कपड़े पहनकर आसन बिछाएं। अब उपरोक्त विधि से आचमन करें और रोगानुसार मंत्र चयन कर पांच माला जप …

आचमन क्रिया – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – achman kriya – purush rog ka yoga dwara upaay Read More »

5. baaharee ang

5. बाहरी अंग – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – 5. baaharee ang – purush rog ka yoga dwara upaay

5. बाहरी अंगजबकि शरीर भीतर से स्वस्थ और ताकतवर बनेगा तो स्वाभाविक रूप से ही बाहरी अंगों और चमड़ी को इसका लाभ मिलेगा। संपूर्ण देह कांतिमय, सुंदर और स्वस्थ नजर आएगी। आसनों के द्वारा शरीर को एक सुंदर शेप दिया जा सकता है। 5. बाहरी अंग – 5. baaharee ang – पुरुष रोग का योगा …

5. बाहरी अंग – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – 5. baaharee ang – purush rog ka yoga dwara upaay Read More »

kabj rog ke liye

कब्ज रोग के लिए – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – kabj rog ke liye – purush rog ka yoga dwara upaay

कब्ज रोग के लिएवज्रासन, सुप्तवज्रासन, मयूरासन, पश्चिचमोत्तानासन, धनुरासन मत्स्यासन, कूर्मासन, चक्रासन, योग मुद्रा और अग्रिसार क्रिया लाभदायक रहती हैं। कब्ज रोग के लिए – kabj rog ke liye – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – purush rog ka yoga dwara upaay

4. bhitari ang

4. भीतरी अंग – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – 4. bhitari ang – purush rog ka yoga dwara upaay

4. भीतरी अंगयोग के आसनों को निरंतर करते रहने से शरीर के भीतरी अंगों में जमा मल और जहर बाहर निकल जाता है जिससे कि वह पुन: सुचारू रूप से कार्य करने लगते हैं। इस क्रिया से वे लम्बे काल तक स्वस्थ बने रहते हैं। 4. भीतरी अंग – 4. bhitari ang – पुरुष रोग …

4. भीतरी अंग – पुरुष रोग का योगा द्वारा उपाय – 4. bhitari ang – purush rog ka yoga dwara upaay Read More »