छत का पानी किस दिशा में गिरना चाहिए

Chat dalne ka shubh muhurat

Chat dalne ka shubh muhurat 2021 – घर का छत

Chat dalne ka shubh muhurat 2021 : कुंडली के 12 वें घर को घर की छत माना जाता है। अगर आप घर की छत को अच्छा रखते हैं, तो 12 वां घर भी अच्छा माना जाता है।  जब हम छत के बारे में बात कर रहे हैं, तो इसका मतलब है कि एक आपके कमरे …

Chat dalne ka shubh muhurat 2021 – घर का छत Read More »

ishan kon mein bhumigat tenk

ईशान कोण में भूमिगत टैंक – चमत्कारिक टोटके – ishan kon mein bhumigat tenk – chamatkari totke

ईशान कोण में भूमिगत टैंक बनवाने से कर्जा कम हो जाता है। नैऋति कोण में भूलकर भी टैंक न बनायें वरना कर्जा, रोग, दुश्मन बढ़ते जाएंगे। ईशान कोण में भूमिगत टैंक – ishan kon mein bhumigat tenk – चमत्कारिक टोटके – chamatkari totke

uttarmukhi bhookhand ke vastu doshon ka nivaran

उत्तरोन्मुखी भूखंड के वास्तु दोषों का निवारण – सम्पूर्ण वास्तु दोष – uttarmukhi bhookhand ke vastu doshon ka nivaran – sampurna vastu dosh nivaran

दोष : इस भूखंड पर बनाए गये घर उत्तरी भाग उन्नत होना। उपाय : इस दोष के निवारण हेतु दक्षिण भाग को ऊंचा करने के लिए टी.वी. का ऐन्टीना, झंडा या लोहे का रॉड उत्तरी भाग से ऊंचा लगा दें तथा साथ ही घर में भारी सामान दक्षिण दिशा में ही रखें। छत के ऊपर …

उत्तरोन्मुखी भूखंड के वास्तु दोषों का निवारण – सम्पूर्ण वास्तु दोष – uttarmukhi bhookhand ke vastu doshon ka nivaran – sampurna vastu dosh nivaran Read More »

vaastu anusaar kahaan ho baatharoom… (uttar-poorv mein rakhen paanee ka bahaav)

वास्तु अनुसार कहाँ हो बाथरूम… (उत्तर-पूर्व में रखें पानी का बहाव) – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaastu anusaar kahaan ho baatharoom… (uttar-poorv mein rakhen paanee ka bahaav) – vedic vastu shastra

घर को बाद में बनवाया जाता है पहले पानी की व्यवस्था देखी जाती है! आजकल कम से कम लोग ही प्राकृतिक पानी का उपयोग करते है पानी अधिकतर या तो सरकारी स्तोत्रों से सुलभ होता है या फ़िर अपने द्वारा ही बोरिंग आदि करवाने से प्राप्त होता है! बाथरूम यह मकान के नैऋत्य; पश्चिम-दक्षिण कोण …

वास्तु अनुसार कहाँ हो बाथरूम… (उत्तर-पूर्व में रखें पानी का बहाव) – वैदिक वास्तु शास्त्र – vaastu anusaar kahaan ho baatharoom… (uttar-poorv mein rakhen paanee ka bahaav) – vedic vastu shastra Read More »

andar graund tenk aur ovar hed tenk vaastu

अंडर ग्राउंड टेंक और ओवर हेड टेंक वास्तु – वैदिक वास्तु शास्त्र – andar graund tenk aur ovar hed tenk vaastu – vedic vastu shastra

अंडर ग्राउंड टेंक की स्थति उत्तर पूर्व में (ईशान कोण) में होनी चाईए और किसी भी स्थान पर नहीं | ओवर हेड टेंक की नेश्रत्य कोण में (भार हेतु) रखनी चाईए या फिर ईशान में कम भार का टेंक बनाना चाईए | अंडर ग्राउंड टेंक और ओवर हेड टेंक वास्तु – andar graund tenk aur …

अंडर ग्राउंड टेंक और ओवर हेड टेंक वास्तु – वैदिक वास्तु शास्त्र – andar graund tenk aur ovar hed tenk vaastu – vedic vastu shastra Read More »

ghar kee chhat par aisee cheejen nahin hona chaahie

घर की छत पर ऐसी चीजें नहीं होना चाहिए – वास्तुशास्त्र में वर्जित – ghar kee chhat par aisee cheejen nahin hona chaahie – vastu shastra mein varjit

अक्सर घर के अंदर और बाहर की साफ-सफाई पर तो ध्यान दिया जाता है लेकिन छत पर गंदगी पड़ी रहती है। वास्तु के अनुसार घर की छत पर पड़ी गंदगी का भी पैसों की तंगी को बढ़ा सकती है। परिवार की बरकत पर बुरा प्रभाव पड़ता है। यह जरूरी है कि घर की साफ-सफाई अंदर …

घर की छत पर ऐसी चीजें नहीं होना चाहिए – वास्तुशास्त्र में वर्जित – ghar kee chhat par aisee cheejen nahin hona chaahie – vastu shastra mein varjit Read More »

unnati mein badhak ho sakta hai chhat par rakha pani ka taink

उन्नति में बाधक हो सकता है छत पर रखा पानी का टैंक – वास्तुशास्त्र में वर्जित – unnati mein badhak ho sakta hai chhat par rakha pani ka taink – vastu shastra mein varjit

जरूरत के समय पानी की कमी नहीं हो इसके लिए लोग अपने घर की छत पर पानी की टैंक लगवाते हैं। टैंक लगवाते समय आमतौर पर यह ध्यान नहीं रखा जाता कि टैंक की सही दिशा क्या होनी चाहिए। जबकि वास्तुशास्त्र के अनुसार पानी का टैंक वास्तु को बहुत अधिक प्रभावित करता है। उपयुक्त दिशा …

उन्नति में बाधक हो सकता है छत पर रखा पानी का टैंक – वास्तुशास्त्र में वर्जित – unnati mein badhak ho sakta hai chhat par rakha pani ka taink – vastu shastra mein varjit Read More »

kahaan ho paanee ka sthaan vaastu anusaar

कहां हो पानी का स्थान वास्तु अनुसार – वास्तु और कक्ष दशा – kahaan ho paanee ka sthaan vaastu anusaar – vastu aur kaksha dasham

पानी का बर्तन रसोई के उत्तर-पूर्व या पूर्व में भरकर रखें। घर में पानी सही स्थान पर और सही दिशा में रखने से परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य अनुकूल रहता है और सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है।पानी का स्थान ईशान कोण है अतः पानी का भण्डारण अथवा भूमिगत टैंक या बोरिंग पूर्व, उत्तर या पूर्वोत्तर …

कहां हो पानी का स्थान वास्तु अनुसार – वास्तु और कक्ष दशा – kahaan ho paanee ka sthaan vaastu anusaar – vastu aur kaksha dasham Read More »

paanee ka vaastu

पानी का वास्तु – दुकान का वास्तु – paanee ka vaastu – dukaan ka vastu

वास्तुअनुसार दुकान में पानी का स्थानवास्तुशास्त्र एक ऐसी प्राचीन विधा है जिसका महत्व वर्तमान में बहुत अधिक बढ़ गया है। आजकल हर व्यक्ति अपने घर और अपने कामकाज से जुड़े स्थान को वास्तु के अनुकूल बनाता है ताकि उन्हें बेहतर परिणाम मिल सके। ऐसे में अगर दुकान में पानी की व्यवस्था उचित दिशा में हो …

पानी का वास्तु – दुकान का वास्तु – paanee ka vaastu – dukaan ka vastu Read More »

paani ki tanki ka vastu

पानी के टेंक का वास्तु – घर का वास्तु – paani ki tanki ka vastu – ghar ka vastu

पानी के टेंक का वास्तु वास्तु के अनुसार पानी के टेंक की दिशाहर घर में पानी की आवश्यकता होती है तो कभी पानी की कमी ना हो इसलिए व्यक्ति अपने घर की छतों पर पानी की टंकी की व्यवस्था करवाते है, टंकी लगवाते समय अधिकतर लोग इस बात को बिलकुल भी ध्यान में नहीं रखते …

पानी के टेंक का वास्तु – घर का वास्तु – paani ki tanki ka vastu – ghar ka vastu Read More »