पुरुष रोग और नुस्खे

नपुंसकता का उपचार

नपुंसकता का उपचार, कारण, लक्षण योग आसन और व्यायाम- नामर्दी की अंग्रेजी दवा

नपुंसकता का उपचार नपुंसकता  स्तंभन दोष हिंदी में। स्तंभन दोष आमतौर पर बोल-चाल में भाषा स्तंभन दोष , पुरुष हड्डियों की कमजोरी , नपुंसकता या नपुंसकता के रूप में जाना , Aprcit नहीं हैं या आज के बदलते परिवेश में नपुंसकता या नपुंसकता से छिपा. लेकिन इस लेख के माध्यम से, हम संबंधित हर सवाल के बारे में विस्तार से पता चल जाएगा करने …

नपुंसकता का उपचार, कारण, लक्षण योग आसन और व्यायाम- नामर्दी की अंग्रेजी दवा Read More »

dhat rokne ki dawa

धात रोग के कारण, लक्षण और उपाय – Dhat Rog Himalaya Dhat Ki Dawa

dhatu rog medicine in himalaya – जब भी किसी व्यक्ति के मन में काम या सेक्स की भावना बढ़ती है! तो लिंग अपने आप कस जाता है और उसका अंग उत्तेजित अवस्था में आ जाता है! इस अवस्था में व्यक्ति के लिंग से पानी के रंग जैसी पतली परत निकलने लगती है! कम फीता के …

धात रोग के कारण, लक्षण और उपाय – Dhat Rog Himalaya Dhat Ki Dawa Read More »

मूत्र रोग का क्या कारण है? मूत्र रोग का आयुर्वेदिक उपचार – घरेलू उपचार

मूत्र से संबंधित बीमारी महिलाओं और पुरुषों दोनों को होती है। मूत्र बनाने के लिए किडनी न केवल हमारे शरीर में काम करती है, बल्कि इसके अन्य कार्य भी हैं। जैसे रक्त की शुद्धि, शरीर में पानी का संतुलन, अम्ल और क्षार का संतुलन, रक्तचाप पर नियंत्रण, रक्त कणों के उत्पादन में सहयोग और हड्डियों …

मूत्र रोग का क्या कारण है? मूत्र रोग का आयुर्वेदिक उपचार – घरेलू उपचार Read More »

yogaabhyaas mein pramukh roop se ye prayog

योगाभ्यास में प्रमुख रूप से ये प्रयोग – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – yogaabhyaas mein pramukh roop se ye prayog – purush rog ka jyotish dwara upchar

योगाभ्यास में प्रमुख रूप से ये प्रयोगअनुलोम-विलोम : कमर व गर्दन सीधी रखकर हवादार कमरे में बैठें। एक नथूने से धीरे-धीरे लंबी व गहरी श्वास फेफड़ों में भरे और धीरे-धीरे दूसरे नथूने से लेने के दोगुने समय में बाहर निकालें। फिर उसी नथूने से श्वास लेकर पहले वाले नथूने से धीरे-धीरे इसी प्रकार निकालें। इस …

योगाभ्यास में प्रमुख रूप से ये प्रयोग – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – yogaabhyaas mein pramukh roop se ye prayog – purush rog ka jyotish dwara upchar Read More »

kuchh any saavadhaaniyaan–upay

कुछ अन्य सावधानियां–उपाय – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – kuchh any saavadhaaniyaan–upay – purush rog ka jyotish dwara upchar

कुछ अन्य सावधानियां–उपाय चिकित्सक की सलाह मानें। हर माह अपना चेकअप कराएँ। वसायुक्त भोजन की मात्रा कम करें। अपनी लंबाई व उम्र के हिसाब से वजन नियंत्रित रखें। नियमित व्यायाम व ध्यान करें। तनाव को कम करने का प्रयास करें। हृदय संबंधी बीमारियों के लिए संबंधित विशेषज्ञ का चयन करें। सदैव प्रसन्न रहें। कुछ अन्य …

कुछ अन्य सावधानियां–उपाय – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – kuchh any saavadhaaniyaan–upay – purush rog ka jyotish dwara upchar Read More »

hrday se sambandhit anek samasyaon mein kaaragar hai

हृदय से सम्बंधित अनेक समस्याओं में कारगर है – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – hrday se sambandhit anek samasyaon mein kaaragar hai – purush rog ka jyotish dwara upchar

हृदय से सम्बंधित अनेक समस्याओं में कारगर है घृतकुमारी के रस ,तुलसी के पत्ते के रस,पान के पत्ते का रस,ताजे गिलोय के पंचांग का रस ,सेब का सिरका एवं लहसुन की कली इन सबको समान मात्रा में उबालकर एक चौथाई शहद के साथ उबाल लें और नियमित एक चम्मच खाली पेट लें ,आपको हृदय रोगों …

हृदय से सम्बंधित अनेक समस्याओं में कारगर है – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – hrday se sambandhit anek samasyaon mein kaaragar hai – purush rog ka jyotish dwara upchar Read More »

pramukh hrday rog sambandhee jyotish yog

प्रमुख हृदय रोग संबंधी ज्योतिष योग – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – pramukh hrday rog sambandhee jyotish yog – purush rog ka jyotish dwara upchar

प्रमुख हृदय रोग संबंधी ज्योतिष योगहृदय रोग होगा या नहीं यह जानने के लिए कुछ ज्योतिष योगों की चर्चा करेंगे। इन योगों के आधार पर आप किसी की कुण्डली देखकर यह जान सकेंगे कि जातक को यह रोग होगा या नहीं। प्रमुख हृदय रोग संबंधी ज्योतिष योग इस प्रकार हैं- — सूर्य-शनि की युति त्रिाक …

प्रमुख हृदय रोग संबंधी ज्योतिष योग – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – pramukh hrday rog sambandhee jyotish yog – purush rog ka jyotish dwara upchar Read More »

jaruri karan–hriday rog ke

जरूरी कारण–हृदय रोग के – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – jaruri karan–hriday rog ke – purush rog ka jyotish dwara upchar

जरुरी कारण–ह्रदय रोग केआइये जाने कुछ जरुरी कारण–ह्रदय रोग के डाक्टरी(चिकित्सीय) कारण अनियमित व अनियंत्रित खानपान। नियमित व्यायाम का अभाव। भोजन की गुणवत्ता पर ध्यान नहीं देना। भोजन लेने के ठीक बाद सोना। वसायुक्त भोजन का अधिक मात्रा में सेवन करना। काफी देर तक एक ही स्थिति में बैठने से हृदय रोग का खतरा बढ़ …

जरूरी कारण–हृदय रोग के – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – jaruri karan–hriday rog ke – purush rog ka jyotish dwara upchar Read More »

grah ka paap prabhav hona

ग्रह का पाप प्रभाव होना – राशिनुसार पुरुष रोग का उपाय – grah ka paap prabhav hona – raashinusaar purush rog ka upaay

ग्रह का पाप प्रभाव होनाकुंडली में षठा (६) घर रोग का स्थान है!अष्टम घर मृत्यु का और बाहरवा 12 घर वयय खर्चे का स्थान है!जो ग्रह कुंडली के ६ भाव वे भाव में हो!अष्टम भाव में हो!बाहरवे भाव में हो छटेघर के मालिक से जो ग्रह छटे घर के मालिक के साथ हो! दूसरे घर …

ग्रह का पाप प्रभाव होना – राशिनुसार पुरुष रोग का उपाय – grah ka paap prabhav hona – raashinusaar purush rog ka upaay Read More »

rog ke prakaar ke liye

रोग के प्रकार के लिए – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – rog ke prakaar ke liye – purush rog ka jyotish dwara upchar

रोग के प्रकार के लिए रोग के प्रकार के लिए पहले, छठे और बारहवें भाव को भी अच्छी तरह देखना चाहिए। —–छठे भाव का कारक मंगल व शनि हैं। मंगल रक्त का कारक और शनि वायु का कारक है। ये भी रोग कारक हैं। आठवां भाव रोग और रोगी की आयु का सूचक है। आठवें …

रोग के प्रकार के लिए – पुरुष रोग का ज्योतिषी द्वारा उपचार – rog ke prakaar ke liye – purush rog ka jyotish dwara upchar Read More »