इन्द्रजाल में रुद्राक्ष के चमत्कारी महारह्स्य

samasya ke liye rudraksh

समस्याओं के लिए रुद्राक्ष – इन्द्रजाल में रुद्राक्ष के चमत्कारी महारह्स्य – samasya ke liye rudraksh – indrajaal mein rudraksh rahasya

यदि आपका विवाह नहीं हो पा रहा है या विवाह के बाद गृहस्थी सुखी नहीं है, आपके सम्बन्ध अपने रिश्ते नाते वालों के साथ ठीक नहीं हैं या समाज में शत्रु ही शरु हो गए हों, तो आपको दो मुखी रुद्राक्ष या गौरी शंकर रुद्राक्ष धारण करना चाहिए,इसे धारण करने से घर में होने वाले …

समस्याओं के लिए रुद्राक्ष – इन्द्रजाल में रुद्राक्ष के चमत्कारी महारह्स्य – samasya ke liye rudraksh – indrajaal mein rudraksh rahasya Read More »

bhagavaan shiv ke priya rudraksh

भगवान शिव के प्रिय रुद्राक्ष – इन्द्रजाल में रुद्राक्ष के चमत्कारी महारह्स्य – bhagavaan shiv ke priya rudraksh – indrajaal mein rudraksh rahasya

भगवान शिव के प्रिय रुद्राक्ष में स्वयं शिव का अंश होता है, रुद्राक्ष को शिवाक्ष,शर्वाक्ष,भावाक्ष,फलाक्ष,भूतनाशन,पावन,हराक्ष, नीलकंठ,तृणमेरु,शिवप्रिय, अमर और पुष्पचामर भी कहते हैं, आयुर्वेद के ग्रंथों में भी रुद्राक्ष की महामहिमा का वर्णन है, आयुर्वेदिक ग्रंथों में रुद्राक्ष को महौषधि,दिव्य औषधि आदि कह कर इसके दिव्य गुणों को विस्तार से बताया गया है, रुद्राक्ष की जड़,छाल,फल,बीज …

भगवान शिव के प्रिय रुद्राक्ष – इन्द्रजाल में रुद्राक्ष के चमत्कारी महारह्स्य – bhagavaan shiv ke priya rudraksh – indrajaal mein rudraksh rahasya Read More »

vidya buddhi evan saphalata praapti hetu rudraaksh

विद्या बुद्धि एवं सफलता प्राप्ति हेतु रुद्राक्ष – इन्द्रजाल में रुद्राक्ष के चमत्कारी महारह्स्य – vidya buddhi evan saphalata praapti hetu rudraaksh – indrajaal mein rudraksh rahasya

विद्या,ज्ञान व बुद्धि की प्राप्ति के लिए तीन मुखी व छ: मुखी रुद्राक्ष धारण करना चाहिए, इसे धारण करने से तीब्र बुद्धि होती है व अद्भुत स्मरण शक्ति प्राप्त होती है, जो पढाई में कमजोर हों वे इसे अवश्य धारण करें,बहुत ज्यादा लाभ मिलेगा, तीन मुखी या छ: मुखी रुद्राक्ष धारण, करने से रचनात्मक कार्यों …

विद्या बुद्धि एवं सफलता प्राप्ति हेतु रुद्राक्ष – इन्द्रजाल में रुद्राक्ष के चमत्कारी महारह्स्य – vidya buddhi evan saphalata praapti hetu rudraaksh – indrajaal mein rudraksh rahasya Read More »