mangal ke anisht mein hone par karen yah upaay

मंगल के अनिष्ट में होने पर करें यह उपाय – नौवां दिन – Day 9 – 21 Din me kundli padhna sikhe – mangal ke anisht mein hone par karen yah upaay – Nauvan Din

किसी जातक के गोचर में मंगल निर्बल व पाप ग्रस्त हो तथा कुंडली में चौथे व आठवें भाव में अकेला विराजमान हो तो इस अकारक अवस्था के कारण रक्त विकार, क्रोध, तीव्र सिर दर्द, नेत्र रोग व संतान हानि जैसी समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं।

क्या उपाय करें : बुआ अथवा बहन को लाल कपड़ा दान में दें। मंगलवार को दरिया की बहती जलधारा में रेवड़ी व बताशा प्रवाहित करें। मूंगा, खांड, मसूर व सौंफ का दान करें। नीम का पेड़ लगाएं। मीठी तंदूरी रोटी कुत्ते को खिलाएं। रोटी पकाने से पहले गर्म तवे पर पानी की छींटे दें।

मंगल के अनिष्ट में होने पर करें यह उपाय – mangal ke anisht mein hone par karen yah upaay – नौवां दिन – Day 9 – 21 Din me kundli padhna sikhe – Nauvan Din

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Comment